[ad_1]

वॉशिंगटन. अमेरिका की रहने वाली वैली फंक (Wally Funk) ने जो सपना 60 साल पहले देखा था, वो अब साकार होता नजर आ रहा है. वह 82 साल की उम्र में अरबपति जेफ बेजोस (Jeff Bezos) के साथ अंतरिक्ष की सैर करने जाएंगी. अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा (NASA) ने 1961 में महिला होने की वजह ने स्पेस में जाने की परमिशन नहीं दी थी. वैली फंक ने स्पेस पर जाने के लिए 28 मिलियन डॉलर (करीब 208 करोड़ रुपये) का पेमेंट किया है.

अरबपति जेफ बेजोस की कंपनी ब्लू ओरिजिन (Blue Origin) ने गुरुवार को यह घोषणा करते हुए कहा कि इस महीने पहली अंतरिक्ष यात्रा में 82 साल की वैली फंक भी साथ होंगी. ब्लू ओरिजिन इस महीने अपने साथ इंसानों को लेकर अंतरिक्ष की यात्रा करने वाले हैं. 20 जुलाई को जेफ बेजोस, उनके भाई और एक अन्य शख्स अंतरिक्ष के लिए रवाना होंगे. उन्हीं के साथ वैली फंक भी होंगी.

इतनी आलीशान जिंदगी जीते हैं Amazon के मालिक, देखिए कैसे खर्च करते हैं अपने करोड़ों रुपए?

11 मिनट का होगा सफर

जेफ बेजोस ने वैली फंक को साथ ले जाने की घोषणा करने के साथ इंस्टाग्राम पर एक वीडियो भी शेयर किया. इस वीडियो में फंक कहती दिख रही हैं, ‘मैं आपसे आगे निकलकर दौड़ सकती हूं.’ बता दें कि Blue Origin का New Shepard यान अंतरिक्ष में करीब 11 मिनट की उड़ान भरेगा. पृथ्वी की सतह से 100 किलोमीटर की दूरी के बाद काल्पनिक सीमा तक पहुंचने के बाद कैप्सूल बूस्टर से अलग हो जाएगा और फिर से वायुमंडल में प्रवेश करेगा. बाद में पैराशूट की मदद से वह धरती पर लौट आएगा.

Mercury 13 का हिस्सा थीं फंक

1961 में NASA ने Mercury 13 नाम से एक कार्यक्रम तैयार किया था. वैली फंक भी Mercury 13 शामिल थीं. अंतरिक्ष में जाने के लिए उन्हें खास ट्रेनिंग भी दी गई. वह इस टीम की पहली महिला और सबसे युवा सदस्य थीं. मगर 1960-61 में सिर्फ महिला होने की वजह से उन्हें इस प्रोग्राम से हटा दिया गया.

स्पेस जाने वाली सबसे बुजुर्ग

20 जुलाई को जब वह जेफ बेजोस के न्यू शेपर्ड लॉन्च (New Shepard Launch) में बैठकर स्पेस के लिए रवाना होंगी, तो वह इतिहास रच देंगी. अंतरिक्ष जाने वाली वह सबसे बुजुर्ग शख्स होंगी.

Amazon के संस्‍थापक जेफ बेजोस 20 जुलाई को जाएंगे अंतरिक्ष, जानें ब्‍लू ओरिजिन के स्‍पेसक्राफ्ट की खूबियां

नेशनल ट्रांसपोर्टेशन सेफ्टी बोर्ड इंस्पेक्टर थीं फंक

फंक नेशनल ट्रांसपोर्टेशन सेफ्टी बोर्ड की पहली महिला इंस्पेक्टर थीं. इसके अलावा वह गुडविल एंबेसेडर भी हैं. एविएशन के क्षेत्र में उनका काफी नाम है. उन्होंने 19.6 हजार घंटे फ्लाइट पर बिताएं हैं. यही नहीं वह 3000 से ज्यादा लोगों को ट्रेनिंग दे चुकी हैं.



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here