[ad_1]

NCLT clears Jalan Kalrock Consortium's resolution plan for Jet Airways- India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

NCLT clears Jalan Kalrock Consortium’s resolution plan for Jet Airways

नई दिल्‍ली। राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (NCLT) ने मंगलवार को जेट एयरवेज (Jet Airways) के लिए जालान कालरॉक गठजोड़ की दिवाला समाधान योजना को मंजूरी दे दी है। जेट एयरवेज दो साल से दिवाला एवं ऋणशोधन अक्षमता संहिता (IBC) के तहत समाधान प्रक्रिया से गुजर रही है। विमानन कंपनी ने अप्रैल, 2019 में परिचालन को निलंबित कर दिया था।

जेट एयरवेज के ऋणदाताओं की समिति (CoC) ने अक्टूबर, 2020 में ब्रिटेन स्थित कालरॉक  कैपिटल और यूएई स्थित उद्यमी मुरारी लाल जालान के गठजोड़ द्वारा प्रस्तुत समाधान योजना को मंजूरी दी थी। एनसीएलटी ने जून, 2019 में भारतीय स्टेट बैंक की अगुवाई वाले ऋणदाताओं के समूह द्वारा जेट एयरवेज के खिलाफ दायर दिवाला याचिका को स्वीकार किया था।

ब्रुकफील्ड रिन्यूएबल राजस्थान में 450 मेगावॉट की सौर परियोजना लगाएंगी

सौर ऊर्जा क्षेत्र की कंपनी एसीएमई ने मंगलवार को कहा कि वह ब्रुकफील्ड रिन्यूएबल के साथ मिलकर राजस्थान में 450 मेगावॉट की सौर परियोजना की स्थापना करेगी। एसीएमई ने एक बयान में कहा कि उसने राजस्थान में 450 मेगावॉट की सौर परियोजना की स्थापना के लिए मंगलवार को ब्रुकफील्ड रिन्यूएबल के साथ एक समझौता किया। हालांकि, कंपनी ने समझौते से जुड़े वित्तीय विवरण का खुलासा नहीं किया। कंपनी ने बताया कि सौर परियोजना के तहत महाराष्ट्र राज्य बिजली वितरण कंपनी लिमिडेट के साथ 25 वर्षों के लिए बिजली खरीद समझौता भी शामिल है। बयान के मुताबिक इस परियोजना के निर्माण के दौरान 450 लोगों और उसके बाद परिचालन के दौरान 150 लोगों को इससे रोजगार मिलने की उम्मीद है।



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here