नोएडा-ग्रेटर नोएडा में चल रही फास्ट मेट्रो ट्रेन सर्र्विस की समीक्षा होगी.  (Demo Pic)

नोएडा-ग्रेटर नोएडा में चल रही फास्ट मेट्रो ट्रेन सर्र्विस की समीक्षा होगी. (Demo Pic)

नोएडा (Noida) में सामान्य मेट्रो ट्रेन के नजदीकी स्टेशन से फास्ट मेट्रो ट्रेन (Metro Train) के स्टेशन तक ई-रिक्शा भी चलाया जा सकता है.

नोएडा. नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (NMRC) की फास्ट मेट्रो ट्रेन को लेकर नई मांग की जाने लगी है. यह मांग है 7एक्स सोसाइटी में रहने वालों की. उनकी मांग है कि उनकी सोसाइटी और ऑफिस के नजदीकी स्टेशन पर भी फास्ट मेट्रो ट्रेन (Metro Tain) रोकी जाए. जिस पर नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) ने फास्ट मेंट्रो ट्रेन सेवा के दो महीने पूरे होने पर समीक्षा करने की बात कही है. वहीं दूसरी ओर 7एक्स सोसाइटी को सुझाव दिया है कि उनकी मांग को पूरा करने के लिए सामान्य मेट्रो ट्रेन के नजदीकी स्टेशन से फास्ट मेट्रो ट्रेन के स्टेशन तक ई-रिक्शा भी चलाया जा सकता है.

गौरतलब रहे एनएमआरसी अधिकारियों का कहना है कि जिस स्टेशन पर मेट्रो नहीं रुक रही है अगर वहां के यात्रियों को अगले स्टेशन के लिए ई-रिक्शा की सुविधा दी जाए तो वह भी फास्ट मेट्रो ट्रेन का फायदा उठा सकेंगे. एनएमआरसी का यह रिव्यू एक्वा लाइन के किनारे के कई सेक्टर और सोसायटियों में रहने वाले लोगों के लिए खास माना जा रहा है.

यहां 10 स्टेशन पर नहीं रुकती है मेट्रो ट्रेन  

एनएमआरसी के अधिकारियों के मुताबिक नोएडा मेट्रो की सुपर फास्ट सेवा सुबह 8 बजे शुरु होगी. सुबह के वक्त यह 11 बजे तक चलती है. और शाम के वक्त 5 बजे से रात 8 बजे तक चलाई जाती है. सुपर फास्ट सेवा की ट्रेन सोमवार से शुक्रवार तक सुबह और शाम को एक खास वक्त पर चलाई जा रही है. ये ट्रेनें एक्वालाइन के कुल 21 स्टेशनों में से 10 स्टेशनों पर नहीं रुकती हैं.Corona News: OPD के बाद अब AIIMS में जनरल ओटी पर भी 10 अप्रैल से लग जाएगा ताला

10 स्टेशन की लिस्ट में सेक्टर 50, 101, 81, 83, 143, 144, 145, 146, 147 और 148 मेट्रो स्टेशन को शामिल किया गया है. अगर सुबह-शाम के इस खास वक्त कोई यात्री इन 10 में से किसी एक स्टेशन पर जाता चाहता है कि उसे इस दौरान सामान्य मेट्रो ट्रेन से सफर करना होगा. इस सेवा के चलते किराए में कोई बदलाव नहीं किया गया है.

सेक्टर 51 से ग्रेटर नोएडा डिपो पहुंचने में लगता है अब इतना वक्त

एनएमआरसी मुताबिक अभी तक सेक्टर 51 से ग्रेटर नोएडा डिपो तक सफर करने में 45 मिनट 43 सेकेंड का वक्त लगता था. लेकिन फास्ट ट्रेन से यह दूरी 36 मिनट 40 सेकंड की रह गई है. इससे यात्रियों को करीब 9 मिनट की बचत हो रही है. इसी तरह सेक्टर 51 से परी चौक तक फास्ट सेवा से 28 मिनट 30 सेकंड का वक्त लग रहा है.

जबकि फरवरी से पहले तक परी चौक आने में 37 मिनट का वक्त लगता था. अधिकारी ने बताया कि यात्रियों को फास्ट ट्रेन के बारे में जानकारी देने के लिए स्टेशनों और ट्रेनों के अंदर एनाउंसमेंट कराया जाता है. इसके साथ ही एनाउंसमेंट के जरिए और दूसरे रास्तों से भी लोगों को फास्ट मेट्रो के बारे में जानकरी दी जा रही है.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here