किसान आंदोलन के बीच PM मोदी ने तमिलनाडु के किसानों की इस बात के लिए की तारीफ

चेन्नई:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को चेन्नई के एक कार्यक्रम में तमिलनाडु के किसानों की तारीफ की. उन्होंने किसानों की ‘रिकॉर्ड स्तर पर अन्न उत्पादन करने’ और ‘जलस्रोतों का उचित इस्तेमाल’ करने के लिए उनकी प्रशंसा की. उनका यह बयान तब आया है जब दिल्ली में पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के किसान कृषि सुधार कानूनों के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं. 

यह भी पढ़ें

पीएम ने कहा कि ‘मैं तमिलनाडु के किसानों की रिकॉर्ड अन्न उत्पादन और जलस्रोतों के बेहतर इस्तेमाल के लिए उनकी प्रशंसा करना चाहता हूं. हम जल संरक्षण के लिए जो कुछ कर सकें, हमें करना चाहिए. ‘हर बूंद पर ज्यादा फसल’ का मंत्र हमेशा याद रखिए.’

चेन्नई के जवाहरलाल नेहरु स्टेडियम में तमिलनाडु सरकार की कई अहम परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास करने के बाद पीएम ने कहा कि ‘हजारों सालों से एनीकट नहर देश के चावल के कटोरे के लिए वरदान बना हुआ है. विशाल एनीकट हमारे समृद्ध इतिहास का जीता जागता गवाह है. आज हम चेन्नई से ऐसी परियोजनाओं की शुरुआत कर रहे हैं, जो नवोन्मेष और स्वदेशी निर्माण का प्रतीक हैं. ये परियोजनाएं तमिलनाडु के विकास को आगे ले जाएंगी.’

Newsbeep

उन्होंने कहा कि ‘यह कार्यक्रम खास है क्योंकि हम 636 किलोमीटर एनीकट नहर का आधुनिकीकरण करने की परियोजना की आधारशिला रख रहे हैं. इसका प्रभाव बहुत अच्छा होगा. इससे 2.27 लाख एकड़ जमीन के लिए सिंचाई की सुविधा में सुधार होगा. तंजौर और पुडुकोट्टई को फायदा होगा.’

पीएम ने यहां पर प्रसिद्ध तमिल कवि अवय्यर के शब्दों को याद करते हुए कहा, ‘जब जलस्तर बढ़ता है तो फसल बढ़ती है, लोगों की संपत्ति है और राज्य की संपत्ति बढ़ती है. हमें जल संरक्षण के लिए जो कर सकते हैं, करना चाहिए. यह राष्ट्रीय मुद्दा ही नहीं, वैश्विक मुद्दा है.’

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here