[ad_1]

ख़बर सुनें

प्रयागराज। कोरोना संक्रमण काल के 13 महीनों में 728 संक्रमितों की उपचार के दौरान मौत हो गई। एक मार्च 2020 से 31 मार्च 21 तक 414 कोरोना संकमितों की जान गई। वहीं पूरे साल पर अप्रैल का महीना भारी पड़ा। एक से 30 अप्रैल तक 314 लोगों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई। 30 अप्रैल को 24 घंटे में सर्वाधिक 25 संक्रमितों की मौत हुई। शुक्रवार को पॉजिटिव मरीजों की संख्या तो कम हुई पर मौतों का आंकड़ा बढ़ने से खौफ बढ़ा है। साफ है कि पूरे साल पर अप्रैल महीने में कोरोना संक्रमण का प्रसार भारी पड़ा है। 

जान गंवाने वालों में 25 फीसदी संक्रमित ग्रामीण 
कोरोना संक्रमण की दूसरी खतरनाक लहर अब गांवों की ओर बढ़ चली है। बीते तीन दिन यानी बुधवार, बृहस्पतिवार और शुक्रवार को जान गंवाने वालों में 25 मरीज ग्रामीण इलाकों के रहने वाले हैं। इससे पहले कुल मौतों में एक या दो मरीज ही गांव के रहने वाले थे। साफ है कि संक्रमण से बेखौफ ग्रामीणों ने पहले न तो एहतियात बरता ना ही लक्षण दिखने पर कोविड की जांच कराई। स्थिति गंभीर होने पर अस्पताल पहुंचे तो जांच में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. ऋषि सहाय के मुताबिक शहरी इलाकों की अपेक्षा अब ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण के नए मामले सामने आ रहे हैं। प्रतिदिन होने वाली कोविड जांच में भी सर्वाधिक संक्रमित ग्रामीण इलाके के रहने वाले पाए गए हैं। उन्होंने बताया कि गांवों में कोविड जांच का दायरा बढ़ाया जा रहा है। ताकी संक्रमण का प्रसार रोका जा सके।

एक दिन में सर्वाधिक 15599 लोगों ने की कोरोना जांच
शुक्रवार को एक दिन में सर्वाधिक कोरोना जांच कराने का भी रिकार्ड बना है। उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक इससे पहले एक मार्च 2020 से 30 अप्रैल 2021 तक एक दिन में इतनी कोरोना जांच नहीं की गई। 24 घंटे में सर्वाधिक 25 मौतों को अलग कर दें तो राहत की बात है कि 15559 लोगों की कोविड जांच में सिर्फ 1389 नए लोगो कोविड पॉजिटिव पाए गए। कोरोना जांच के नोडल अधिकारी डॉ एके तिवारी के मुताबिक जांच का दायरा हर दिन बढ़ाया जा रहा है। जांच केंद्रों से इतर 92 सचल दस्ते गाड़ियों से जगह-जगह कोरोना की जांच कर रही हैं। शुक्रवार को 10696 लोगों की एंटीजन, 4061 लोगों की आरटीपीसीआर, 245 लोगों की ट्रूनॉट जांच की गई। साथ ही 597 लोगों ने निजी केंद्रों पर कोविड की जांच कराई।

अब तक 77002 लोग पॉजिटिव, 55208 हुए स्वस्थ
जिले में अब तक 77002 लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं। वहीं 55208 लोगों ने कोरोना को मात दी है। दुखद रहा कि संक्रमितों में गंभीर हुए 728 लोगों ने जान गंवाई। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक संक्रमणमुक्त होने वाले कुल 55208 लोगों में 47939 लोगों ने होम आइसोलेशन पूरा किया। यानी इन लोगों ने घर पर रहकर ही कोरोना संक्रमण को मात दी। वहीं विभिन्न कोविड अस्पतालों से अब तक 9479 लोग डिस्चार्ज किए जा चुके हैं। जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. ऋषि सहाय के मुताबिक संक्रमण के प्रसार को रोकने की कोशिश के तहत जांच का दायरा हर दिन बढ़ाया जा रहा है। अब संक्रमितों की संख्या कम हो रही है, स्वस्थ होने वाले ज्यादा हैं।

विस्तार

प्रयागराज। कोरोना संक्रमण काल के 13 महीनों में 728 संक्रमितों की उपचार के दौरान मौत हो गई। एक मार्च 2020 से 31 मार्च 21 तक 414 कोरोना संकमितों की जान गई। वहीं पूरे साल पर अप्रैल का महीना भारी पड़ा। एक से 30 अप्रैल तक 314 लोगों की कोरोना संक्रमण से मौत हुई। 30 अप्रैल को 24 घंटे में सर्वाधिक 25 संक्रमितों की मौत हुई। शुक्रवार को पॉजिटिव मरीजों की संख्या तो कम हुई पर मौतों का आंकड़ा बढ़ने से खौफ बढ़ा है। साफ है कि पूरे साल पर अप्रैल महीने में कोरोना संक्रमण का प्रसार भारी पड़ा है। 

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here