Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बलरामपुरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले की नवानगर जिला पंचायत सीट पर वर्चस्व की जंग को लेकर हिंसा हुई। - Dainik Bhaskar

उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले की नवानगर जिला पंचायत सीट पर वर्चस्व की जंग को लेकर हिंसा हुई।

उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले की नवानगर जिला पंचायत सीट पर वर्चस्व की जंग को लेकर जमकर हिंसा हुई। यहां तुलसीपुर थाना क्षेत्र के बेली कला गांव में युवा कांग्रेस के पूर्व मध्यजोन प्रदेश अध्यक्ष दीपांकर सिंह व सपा से सांसद रहे रिजवान जहीर जो कि अब बसपा में शामिल हो चुके के समर्थकों के बीच जमकर मारपीट हुई। मारपीट के बीच हालात इतने खराब हुए कि दीपांकर सिंह की दो लग्जरी गाड़ियों को रिजवान समर्थकों ने आग के हवाले कर दिया। जबकि कुछ अन्य गाडियों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया।

जानकारी के अनुसार, पूर्व सांसद रिजवान जहीर की पत्नी और पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष हुमा रिजवान जिला पंचायत क्षेत्र नवानगर से बसपा समर्थित उम्मीदवार हैं। इसी क्षेत्र से दीपांकर सिंह की पत्नी अरुणिमा सिंह कांग्रेस के समर्थन से जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रही हैं।

आमना-सामना होते ही दोनों पक्षों के बीच शुरू हुआ बवाल

सोमवार को दिनभर शांतिपूर्ण मतदान के बाद देर शाम तुलसीपुर थाना क्षेत्र के बेलीकला गांव में पूर्व सांसद रिजवान जहीर के दामाद रमीज नेमत और दीपांकर सिंह और उनके समर्थकों का आमना सामना हो गया। आमना-सामना होने पर दोनों पक्षों में विवाद शुरू हो गया। देखते ही देखते मारपीट शुरू हो गई। इस मारपीट में दोनों ही पक्षों से आधा दर्जन लोग घायल हो गए है। इसमें रिजवान जहीर के दामाद रमीज अहमद को भी काफी चोट आई हैं। बताया जाता है कि मारपीट की शुरुआत दीपांकर सिंह के समर्थकों के तरफ़ की गई।

दो गाड़ियों में तोड़फोड़ और दो को किया आग के हवाले

इस बीच बवाल बढ़ता देख रिज़वान ज़ाहिर के समर्थक भी घटना स्थल पर जुटने लगे। उनके समर्थकों की बढ़ती संख्या देखते हुए दीपांकर सिंह और उनके समर्थक अपने वाहन छोड़कर मौके से भाग गए। बताया जाता है कि इसके बाद अपने अन्य समर्थकों के साथ मौके पर पहुंचे पूर्व सांसद ने दीपांकर सिंह के वाहनों में आग लगवा दी और उन्हें क्षतिग्रस्त करवा दिया।

घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे एसपी हेमन्त कुटियाल व डीएम श्रुति ने किसी तरह मामले को शांत कराया और रात में ही पूर्व सांसद रिजवान जहीर व कांग्रेस नेता दीपांकर सिंह समेत 11 लोगो को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने रात से इन सभी को अज्ञात स्थान पर रखा जिससे इनके समर्थकों का जमावड़ा न लगे। बावजूद इसके जब इन्हें न्यायालय में पेश करने के लिए लाया गया तो दोनों खेमे के समर्थकों की भारी भीड़ उमड़ पड़ी जिसे बमुश्किल पुलिस ने न्यायालय के बाहर रोका।

पूरे मामले पर एसपी हेमंत कुटियाल ने बताया के तुलसीपुर थाना क्षेत्र के बेली कला गांव में हुई हिंसा और आगजनी के मामले में पूर्व सांसद व कांग्रेस नेता दीपांकर सिंह समेत कुल 11 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्हें न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया गया है।एसपी ने यह भी बताया कि जिलाधिकारी श्रुति के आदेश पर इन सभी पर रासुका NSA की कार्रवाई भी की जाएगी। एसपी ने पूर्व सांसद का आपराधिक इतिहास बताते हुए कहा कि इस पर 12 मुकदमे दर्ज हैं इसमे हत्त्या व हत्त्या के प्रयास जैसे संगीन मामले शामिल हैं उसके बाद ये सक्रिय राजनीति में आ गया था ये हरैया थाने का पुराना हिस्ट्रीशीटर है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here