न्यूज डेस्क, अमर उजाला, वाराणसी
Updated Tue, 26 Jan 2021 12:41 PM IST

चंदौली में सपा की ट्रैक्टर रैली।
– फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

गणतंत्र दिवस पर पूर्वांचल में किसान ट्रैक्टर रैली के लिए किसानों को समाजवादी पार्टी (सपा) का भी समर्थन है। किसानों के साथ सपा कार्यकर्ता और नेता भी रैली निकाल रहे हैं। वहीं, पुलिस भी इसे रोकने के लिए मुस्तैद हो गई है। सपा के कई नेताओं को नजरबंद कर दिया हैं, कई कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया है। वाराणसी, चंदौली, मिर्जापुर और मिर्जापुर समेत सपा किसान ट्रैक्टर रैली निकाल रही है।

चंदौली में सपा और किसानों की ट्रैक्टर रैली
चंदौली जिले में नए कृषि कानून के खिलाफ दिल्ली में आयोजित ट्रैक्टर रैली के समर्थन में भी किसान भी उतर आए हैं। जगह-जगह ट्रैक्टरों के साथ किसान मुस्तैद हो गए हैं। सकलडीहा में ट्रैक्टर रैली रोकने पर किसान और सपा कार्यकर्ता धरने पर बैठ गए। कुछ किसान ट्रैक्टर पर सवार होकर जिला मुख्यालय पहुंच गए। वहीं, दूसरी तरफ जिले के मुख्य मार्गों की ओर आने वाले रास्तों पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है।

पुलिस की ओर से किसी को भी ट्रैक्टर लेकर मुख्य मार्ग पर आने की इजाजत नहीं दी गई है। पुलिस की ओर से पंप संचालकों तक को इस बात की सख्त हिदायत दी गई गई कि गणतंत्र दिवस पर किसी ट्रैक्टर में डीजल न भरा जाए। यहां तक कि सोमवार को पुलिस ट्रैक्टर स्वामियों को नोटिस देकर सख्त चेतावनी दी है कि मुख्य मार्ग पर आते ही उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

पुलिस ने रोका सपा कार्यकर्ताओं का ट्रैक्टर जुलूस
मिर्जापुर जिले में किसान आंदोलन के समर्थन में समाजवादी पार्टी द्वारा जिले की चारों तहसीलों में ट्रैक्टर जुलूस निकालने को लेकर जगह-जगह पुलिस से नोकझोंक हुई। इसे देखते हुए सुरक्षा-व्यवस्था चाकचौबंद की गई थी।

मंगलवार की सुबह समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष देवी चौधरी कार्यकर्ताओं के साथ पहाड़ी ब्लॉक के अघवार गांव पहुंचे। वहां से ट्रैक्टर जुलूस लेकर आगे बढ़े ही थे कि एक किलोमीटर के बाद पुलिस ने उन्हें रोक दिया। ट्रैक्टर जुलूस समाप्त कर सपा कार्यकर्ता लालगंज तहसील चले गए।

सपा, कांग्रेस और किसान नेताओं को नजरबंद भी किया गया है, जिससे वे ट्रैक्टर जुलूस में भाग न ले सकें। कलवारी में मड़िहान के पूर्व विधायक ललितेश पति त्रिपाठी अन्य को भी नजरबंद किया गया है। कई जगहों पर जुलूस निकाल रहे किसान नेताओं और पुलिस की झड़प भी हुई।

जौनपुर में सपा का जुलूस
जौनपुर शहर में जिला कार्यालय से सपाइयों ने जिलाध्यक्ष लालबहादुर यादव के नेतृत्व में जुलूस निकाला। हाथों में तिरंगा और पार्टी का झण्डा लेकर कलेक्ट्रेट की ओर बढ़ रहे कार्यकर्ताओं को सद्भावना पुल के पास शहर कोतवाल संजीव मिश्र के नेतृत्व में पुलिस ने रोक दिया। सभी को हिरासत में लेकर लाइन बाजार थाने ले जाया गया। जलालपुर में पूर्व सांसद तूफानी सरोज को सुबह ही घर में नजरबंद कर दिया था।

गणतंत्र दिवस पर पूर्वांचल में किसान ट्रैक्टर रैली के लिए किसानों को समाजवादी पार्टी (सपा) का भी समर्थन है। किसानों के साथ सपा कार्यकर्ता और नेता भी रैली निकाल रहे हैं। वहीं, पुलिस भी इसे रोकने के लिए मुस्तैद हो गई है। सपा के कई नेताओं को नजरबंद कर दिया हैं, कई कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया है। वाराणसी, चंदौली, मिर्जापुर और मिर्जापुर समेत सपा किसान ट्रैक्टर रैली निकाल रही है।

चंदौली में सपा और किसानों की ट्रैक्टर रैली

चंदौली जिले में नए कृषि कानून के खिलाफ दिल्ली में आयोजित ट्रैक्टर रैली के समर्थन में भी किसान भी उतर आए हैं। जगह-जगह ट्रैक्टरों के साथ किसान मुस्तैद हो गए हैं। सकलडीहा में ट्रैक्टर रैली रोकने पर किसान और सपा कार्यकर्ता धरने पर बैठ गए। कुछ किसान ट्रैक्टर पर सवार होकर जिला मुख्यालय पहुंच गए। वहीं, दूसरी तरफ जिले के मुख्य मार्गों की ओर आने वाले रास्तों पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है।

पुलिस की ओर से किसी को भी ट्रैक्टर लेकर मुख्य मार्ग पर आने की इजाजत नहीं दी गई है। पुलिस की ओर से पंप संचालकों तक को इस बात की सख्त हिदायत दी गई गई कि गणतंत्र दिवस पर किसी ट्रैक्टर में डीजल न भरा जाए। यहां तक कि सोमवार को पुलिस ट्रैक्टर स्वामियों को नोटिस देकर सख्त चेतावनी दी है कि मुख्य मार्ग पर आते ही उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here