मप्र के सपा-बसपा नेताओं को यूपी पंचायत चुनाव में बड़ी जिम्मेदारी मिली है. (सांकेतिक तस्वीर)

मप्र के सपा-बसपा नेताओं को यूपी पंचायत चुनाव में बड़ी जिम्मेदारी मिली है. (सांकेतिक तस्वीर)

UP पंचायत चुनाव: SP-BSP के मध्य प्रदेश के नेता उत्तर प्रदेश जा रहे हैं. वहां वे अपने नए-पुराने रिश्तेदारों से मिलेंगे. दोनों पार्टियों के नेता रिश्तेदारों से मिलकर माहौल अपने पक्ष में बनाएंगे.

भोपाल. मध्य प्रदेश के समाजवादी पार्टी (SP) और बहुजन समाजवादी पार्टी (BSP) के नेता इन दिनों उत्तर प्रदेश में न केवल रिश्तेदार तलाश रहे हैं, बल्कि करीब-करीब खत्म हो चुकी रिश्तेदारी को जिंदा करने की कोशिश भी कर रहे हैं. ये सारा मामला उत्तर प्रदेश के पंचायत चुनावों से जुड़ा है. इसके लिए पार्टियों ने अपने नेताओं को कोई आधिकारिक आदेश तो जारी नहीं किया, लेकिन दबी जबान में ये काम करने को कहा है.

दरअसल, उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव हैं. प्रदेश की कई सीमाएं मध्य प्रदेश से लगी हुई हैं. ऐसे में नेताओं की दोनों प्रदेशों में रिश्तेदारी होना आम बात है. इसकी के मद्देनजर मध्य प्रदेश के नेताओं से कहा गया है कि वे उत्तर प्रदेश के रिश्तेदारों से संपर्क बनाएं और पूरा माहौल पार्टी के पक्ष में बनाएं.

मध्य प्रदेश का प्रमुख पर्यटन स्थल ओरछा में हुआ सपा का कार्यक्रम

गौरतलब है कि समाजवादी पार्टी ने अपने झांसी मंडल के कार्यक्रम के लिए मध्य प्रदेश का प्रमुख पर्यटन स्थल ओरछा चुना था. इसका उद्देश्य भी यहां के नेताओं को संदेश देना था कि पंचायत चुनावों के लिए तैयार हो जाएं. क्योंकि, दोनों पार्टियों का जनाधार उत्तर प्रदेश में खो गया है और इसके लिए ये पंचायत चुनाव बहुत अहम हैं.अपने-अपने पक्ष में बनाएंगे माहौल

सपा के वरिष्ठ नेता ने बताया कि इस कार्यक्रम में पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारी शामिल हुए थे. उन्होंने सभी को फौज की तरह डट जाने के लिए कहा. वहीं, बसपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि जिले की सीमाओं के पार सभी नेताओं की रिश्तेदारी है, इसलिए वहां हमारे संपर्क भी हैं. इसलिए पार्टी के पक्ष में माहौल बनाने का काम किया जाएगा.

टल गया टकराव

कई नेताओं का कहना है कि अगर पार्टियां आधिकारिक रूप से ये आदेश देतीं तो कई नेताओं में आपसी टकराव होता, लेकिन अब वो टकराव नहीं है. इसके अलावा मध्य प्रदेश में भी नगरीय निकाय चुनाव होने हैं. इसी बहाने पार्टी नेता और कार्यकर्ता सक्रिय होंगे तो मध्य प्रदेश में इसका फायदा मिलेगा.









Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here