Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सुलतानपुर16 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
दीपक के लापता होने के बाद परिज� - Dainik Bhaskar

दीपक के लापता होने के बाद परिज�

‘ताऊ ते’ तूफान का असर वैसे तो देश के कई हिस्सों में देखने को मिल रहा। गुजरात और मुंबई में भारी तबाही भी हुई है। मुंबई में आए तूफान के बाद से लापता हुए लोगों में यूपी के सुलतानपुर जिले के चांदा थाना अंतर्गत दरबरपुर गांव का दीपक भी है। आज तीन दिन हो गए हैं उसका कोई पता नहीं चल सका है, जिससे उसके घर पर कोहराम मचा हुआ है।

जानकारी के अनुसार, दरअसल चांदा थाना क्षेत्र के दरबरपुर गांव निवासी दीपक (32) पुत्र रामलखन मुंबई में मछली पकड़ने का काम करता था। अभी साल भर पहले ही वो घर आया था और जल्दी आने को बोलकर वापस लौटा था। वो मुंबई के मलाड वेस्ट में रहता था और समुद्री बोट पर मछली पकड़ने का काम करता था। 18 मई की सुबह उसने पत्नी सुमन से आखरी बार फोन पर बात किया था।

जिस नाव से मछली पकड़ने गया था वह डूब गई

शाम को दीपक के भांजे ने घर वालों को फोन पर सूचना दिया कि मामा समुद्र में बोट पर मछली पकड़ने गए थे, जहां बोट पलट गया और सभी लोग डूब गए। कुछ लोग मिल गये हैं कुछ का अभी पता नहीं चल सका है। दीपक की पत्नी सुमन ने बताया कि, पति दीपक एक साल पहले आखरी बार घर आए थे। वो जल्दी ही आने को बोलकर गए थे।

18 मई को अंतिम बार हुई थी परिजनों की बात

उसने बताया कि बराबर वो फोन पर बात करते और परिवार की खबर लेते थे। 18 मई को सुबह उनका फोन आया था और आखरी बार बात हुई थी उसके बाद से उनसे बात नहीं हो पाई। उसके लापता होने की सूचना मिलते ही मानो परिवार पर दुःखों का पहाड़ टूट पड़ा। दीपक के तीन पुत्री खुशबू, खुशी, रुचि और दो पुत्र अंकुश व अंकित इनका जीवन कैसे पार लगेगा ये बड़ा सवाल है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here