नई दिल्ली. इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे वनडे मुकाबले में मिताली राज (Mithali Raj) ने अर्धशतकीय पारी खेली लेकिन उन्हें दूसरे छोर से सहयोग नहीं मिलने के कारण टीम इंडिया बड़ा स्कोर खड़ा नहीं कर पाई. भारतीय टीम टॉन्टन वनडे में महज 221 रन ही बना सकी. इंग्लैंड की मीडियम पेस गेंदबाज केट क्रॉस ने घातक गेंदबाजी करते हुए 5 विकेट हासिल किये. मिताली ने रन आउट होने से पहले 92 गेंदों पर सात चौकों की मदद से 59 रन बनाये. उन्होंने पिछले मैच की तुलना में रन बनाने को प्राथमिकता दी थी लेकिन दूसरे छोर से विकेट गिरने के कारण वह भी दबाव में आ गयी. केट क्रॉस ने 34 रन देकर पांच जबकि बायें हाथ की स्पिनर सोफी एक्लेस्टोन ने 33 रन देकर तीन विकेट लिये.

भारत को पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने के बाद शेफाली वर्मा (55 गेंदों पर 44 रन) और स्मृति मंधाना (30 गेंदों पर 22 रन) ने पहले विकेट के लिये 54 रन जोड़े लेकिन 21 रन के अंदर तीन विकेट गंवाने से टीम दबाव में आ गयी. बाद में मिताली और हरमनप्रीत कौर (39 गेंदों पर 19 रन) के बीच चौथे विकेट के लिये 68 रन जोड़े लेकिन यह साझेदारी टूटते ही टीम ताश के पत्तों की तरह बिखर गयी. भारत ने फिर से कई खाली गेंदें जाने दी जो उसके लिये चिंता का विषय है.

क्रॉस ने बरपाया टीम इंडिया पर कहर

क्रॉस ने 12वें ओवर में दूसरे बदलाव के रूप में गेंद संभाली तथा आते ही मंधाना और जेमिमा रोड्रिग्स (8) को पवेलियन की राह दिखायी. मंधाना उनकी गुडलेंथ गेंद को कट करने के प्रयास में विकेटों में खेल गयी जबकि जेमिमा की टाइमिंग सही नहीं थी और गेंद उनके बल्ले का किनारा लेकर हवा में लहरा गयी थी. शेफाली जब 21 रन पर थी तब कैथरीन ब्रंट की गेंद पर लॉरेन विनफील्ड हिल ने मिडऑफ पर उनका आसान कैच छोड़ा. अपने नैसर्गिक अंदाज में बल्लेबाजी कर रही यह 17 वर्षीय बल्लेबाज इसका फायदा नहीं उठा पायी और एक्लेस्टोन की गेंद को आगे बढ़कर खेलने के प्रयास में स्टंप आउट हो गयी.

मिताली और हरमनप्रीत ने इसके बाद जिम्मा संभाला. मिताली ने सहजता से रन बटोरे और इस बीच कुछ अच्छे शॉट लगाये लेकिन हरमनप्रीत को शुरू से संघर्ष करना पड़ा. क्रॉस के दूसरे स्पैल में उन्होंने भी जेमिमा की तरह गेंद हवा में लहराकर अपना विकेट इनाम में दिया. क्रॉस ने इसके बाद दीप्ति शर्मा (12 गेंदों पर पांच) और स्नेह राणा (सात गेंदों पर पांच) को आउट करके अपने करियर में दूसरी बार मैच में पांच विकेट लेने का कारनामा किया.

मिताली ने 80 गेंदों पर अपने वनडे करियर का 57वां अर्धशतक पूरा किया लेकिन दूसरे छोर से विकेट गिरने का क्रम नहीं रुका जिसका दबाव उन पर साफ दिख रहा था. वह आखिर में तीसरा रन चुराने के प्रयास में रन आउट हो गयी. झूलन गोस्वामी (19 गेंदों पर नाबाद 19 रन) और पूनम यादव (15 गेंदों पर 10 रन) ने आखिरी विकेट के लिये 22 गेंदों पर 29 रन जोड़े जिससे भारत सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचा. भारतीय टीम ने पिछले मैच को आठ विकेट से गंवाने वाली टीम में तीन बदलाव किये और पूनम राउत, पूजा वस्त्राकर, एकता बिष्ट की जगह जेमिमा, स्नेह राणा और पूनम यादव को प्लेइंग इलेवन में जगह दी. इंग्लैंड ने अपनी टीम में कोई बदलाव नहीं किया.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here