[ad_1]

बरेली3 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
पीड़ित परिवार ने बताई आपबीती। - Dainik Bhaskar

पीड़ित परिवार ने बताई आपबीती।

उत्तर प्रदेश के बरेली के कैंट के बुखारा में शनिवार रात परिवार को बंधक बनाकर पांच बदमाशों ने डकैती को अंजाम दिया। पूरा गिरोह कच्छा बनियान में नकाब पहनकर आया था। उनके पास तमंचे और तलवारें भी थी। परिवार ने चीखने चिल्लाने की कोशिश की तो उन्होंने तमंचे और तलवार से डरा दिया। बदमाश लाखों के जेवर और नकदी लूटकर फरार हो गए। पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

बुखारा के रहने वाले मोहम्मद आरिफ ने बताया कि वह एक ठेकेदार है और लोगो के मकान बनाने का ठेका लेते है। शनिवार रात वह अपनी पत्नी रुकसार और तीन बच्चो के साथ सो रहे थे। रात करीब 12:30 बजे अचानक पांच बदमाश उनके घर में घुस आए। और परिवार पर तमंचा तान दिया। उन्होंने चीखने चिल्लाने कर मदद मांगनी चाही तो बदमाशों ने तलवार से उन्हें मारने की धमकी दे दी। इतना ही नहीं बदमाशों ने आरिफ व उनकी पत्नी को दुपट्टे से बांध दिया। इस दौरान बदमाशो ने रकम और सोना रखे होने की जगह पूछी और तीन बदमाशो ने उनसे जबरन दूसरे कमरे की चाबी लेकर चले गये। जबकि दो बदमाश गले पर तलवार रख पति पत्नी के पास ही खड़े रहे। पीड़ित के मुताबिक आरोपी बदमाशो न अलमारी में रखे सोने के छाले, मांग पट्टी, कंगन, लॉकेट, नथ, अंगूठी, कुंडल, तोडा, सौकबंद, पायल पांच हजार रुपये लूट लिये। इसके बाद उन्हें बंधा ही छोड़ कर आरोपी दरवाजे से बाहर भाग गये।

डकैतों के जाने के बाद मचा शोर

आरोपियो के फरार होने के बाद परिवार में चीख-पुकार शुरू हुई। तब जाकर मोहल्ले के लोगों को खबर हुई। चीखने चिल्लाने की आवाज पर सभी एकत्र हो गए। पड़ोसियो ने आकर उन्हें खोला और मामले की सूचना उन्होंने तत्काल कैंट पुलिस को दी और पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुट गई है।

पड़ी डकैती, मुकदमा लूट में दर्ज

हैरत की बात तो यह है कि पुलिस को चोरी और डकैती में अंतर ही पता नहीं चलता। उनके इलाके में तमंचे और तलवार के जोर पर डकैती हो जाती है और पुलिस केवल चोरी में मुकदमा दर्ज करती है। इस मामले में जब कैंट इंस्पेक्टर राजीव कुमार सिंह से बातचीत की गई तो उन्होंने बताया कि आरिफ के यहां चोरी हुई थी। तहरीर के आधार पर चोरी का मुकदमा दर्ज किया है। जिसमें 457 और 380 धाराएं लगाई गई है। बताया कि तहरीर के आधार सिर्फ तीन या चार आरोपी ही बताए गए थे। उन्होंने यह भी कहा कि मामले में विवेचना के दौरान ही धारा बड़ा दी जायेगी।

चारपाई पर बिखरा पड़ा सामान।

चारपाई पर बिखरा पड़ा सामान।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here