[ad_1]

अमर उजाला ब्यूरो, गोरखपुर।

Updated Sat, 26 Sep 2020 09:12 PM IST

फर्जी नियुक्ति पत्र लेकर उद्यान विभाग में ज्वाइन करने आए युवक हिरासत में।
– फोटो : अमर उजाला।

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

गोरखपुर में रुपये देकर उद्यान विभाग में सरकारी नौकरी ‘खरीदने’ वाले दो युवकों को पुलिस ने शनिवार को फर्जी नियुक्ति पत्र के साथ हिरासत में ले लिया। पुलिस ने उनके साथ आए सरकारी नौकरी के ‘विक्रेता’ को भी पकड़ लिया है। ज्वाइन करने आए एक युवक के पास जिला उद्यान विभाग में अफसर और दूसरे के कब्जे से कर्मचारी पद पर नियुक्ति का फर्जी पत्र मिला है।

प्राथमिक जांच में पता चला है कि 40 और 20 हजार रुपये एडवांस दिए गए थे, बाकी रकम ज्वाइनिंग के बाद देनी थी। यही नहीं, यहां तीन युवक और एक युवती को ज्वाइन करना था, लेकिन दो युवक ही आए। इससे पहले ये चारों ज्वाइनिंग के लिए प्रयागराज जिला उद्यान विभाग गए थे। वहां से इन्हें गोरखपुर जाने के लिए कहा गया था। हिरासत में लिए गए तीनों युवकों से पुलिस पूछताछ कर रही है।

जानकारी के मुताबिक हिरासत में लिए गए आरोपितों की पहचान अयोध्या के धन्नीपुर निवासी रवि यादव, बशारतपुर निवासी किशोर मौर्या और गोरखपुर के हरिसेवकपुर नंबर एक निवासी नवीन कुमार के रूप में हुई है। नियुक्ति पत्र देखने के बाद ही विभागीय कर्मचारियों को संदेह हो गया था।

 

इसकी सूचना उन्होंने जिलाधिकारी सहित पुलिस को दी थी। पकड़े गए दो युवकों ने अपने साथ आए तीसरे युवक पर नौकरी दिलाने के नाम पर रुपये लेकर जालसाजी करने का आरोप लगाया है। दोनों युवकों का कहना है कि उन्हें नहीं पता था कि उनका नियुक्ति पत्र फर्जी है।

इसी वजह से वे नौकरी दिलाने के नाम पर रुपये लेने वाले को साथ में लेकर आए थे। पुलिस ने पूछताछ के आधार पर नियुक्ति दिलाने के नाम पर बेरोजगारों को ठगने वाले गिरोह की पड़ताल शुरू कर दी है। सीओ कैंट सुमित शुक्ला ने बताया कि ज्वाइन करने आए युवकों से पूछताछ की जा रही है।

सार

एक प्रशासनिक अफसर तो दूसरा चतुर्थश्रेणी कर्मी का नियुक्ति पत्र लेकर आया था

दोनों को साथ में लेकर आए तीसरे युवक को भी हिरासत में लिया, पूछताछ जारी

पुलिस को है रुपये लेकर नौकरी दिलाने वाले गिरोह के सक्रिय होने की आशंका

विस्तार

गोरखपुर में रुपये देकर उद्यान विभाग में सरकारी नौकरी ‘खरीदने’ वाले दो युवकों को पुलिस ने शनिवार को फर्जी नियुक्ति पत्र के साथ हिरासत में ले लिया। पुलिस ने उनके साथ आए सरकारी नौकरी के ‘विक्रेता’ को भी पकड़ लिया है। ज्वाइन करने आए एक युवक के पास जिला उद्यान विभाग में अफसर और दूसरे के कब्जे से कर्मचारी पद पर नियुक्ति का फर्जी पत्र मिला है।

प्राथमिक जांच में पता चला है कि 40 और 20 हजार रुपये एडवांस दिए गए थे, बाकी रकम ज्वाइनिंग के बाद देनी थी। यही नहीं, यहां तीन युवक और एक युवती को ज्वाइन करना था, लेकिन दो युवक ही आए। इससे पहले ये चारों ज्वाइनिंग के लिए प्रयागराज जिला उद्यान विभाग गए थे। वहां से इन्हें गोरखपुर जाने के लिए कहा गया था। हिरासत में लिए गए तीनों युवकों से पुलिस पूछताछ कर रही है।

जानकारी के मुताबिक हिरासत में लिए गए आरोपितों की पहचान अयोध्या के धन्नीपुर निवासी रवि यादव, बशारतपुर निवासी किशोर मौर्या और गोरखपुर के हरिसेवकपुर नंबर एक निवासी नवीन कुमार के रूप में हुई है। नियुक्ति पत्र देखने के बाद ही विभागीय कर्मचारियों को संदेह हो गया था।

 


आगे पढ़ें

मामले की होगी जांच

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here