[ad_1]

ग्रहों की स्थिति-सूर्य, बुध और राहु वृषभ राशि में हैं। मिथुन राशि में शुक्र और चंद्रमा हैं। कर्क राशि में मंगल हैं। केतु वृश्चिक राशि में हैं। मकर राशि में शनि हैं। कुंभ राशि में गुरु का गोचर चल रहा है। बुध और शनि वक्री गति से चल रहे हैं। मंगल नीच के हैं। गुरु अतिगामी हैं।

राशिफल-
मेष-
स्‍वास्‍थ्‍य पर ध्‍यान देने की जरूरत है। प्रेम और संतान की स्थिति मध्‍यम है। अपनों की मदद की वजह से आप व्‍यवसायिक विस्‍तार करने में सफल रहेंगे। मां काली की अराधना करते रहें।

वृषभ-शारीरिक और मानसिक दबाव बना रहेगा। व्‍यवसायिक स्थिति मध्‍यम गति से आगे चलती रहेगी। प्रेम की स्थिति अभी बहुत अच्‍छी नहीं दिख रही है। गणेश जी की अराधना करते रहें।

मिथुन-शारीरिक और मानसिक स्थिति में अस्‍थाई राहत जरूर मिलेगी लेकिन स्‍वास्‍थ्‍य के मामले में आपको कोई विशेष राहत अभी नहीं दिख रही है। प्रेम और संतान की स्थिति अच्‍छी है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से भी आप सही चल रहे हैं। हरी वस्‍तु पास रखें।

कर्क-मन थोड़ा परेशान रहेगा लेकिन यह एक काल्‍पनिक स्थिति रहेगी कि किसी चीज को सोचकर मन परेशान हो सकता है। व्यवसाय और प्रेम में अच्‍छा समन्‍वय चल रहा है। शारीरिक निस्‍तेजता के शिकार हो सकते हैं। ध्‍यान दें। भगवान शिव की अराधना करते रहें।

सिंह-आशातीत सफलता मिलेगी। व्‍यवसायिक और आर्थिक स्थिति आपकी मजबूत होती दिख रही है। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। प्रेम और संतान दोनों की अच्‍छी स्थिति है। सूर्यदेव को जल देते रहें।

कन्‍या-व्‍यवसायिक लाभ मिलेगा। पैतृक सम्‍पत्ति में इजाफा होगा। पिता के स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार होगा। आपका स्‍वास्‍थ्‍य थोड़ा अभी मध्‍यम दिख रहा है। प्रेम में दूरी बनी हुई है। शनिदेव की अराधना करें।

तुला-धार्मिक अनुष्‍ठान में भाग लेंगे। धर्म-कर्म में विश्‍वास बढ़ेगा। स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार है। प्रेम की स्थिति मध्‍यम है। व्‍यवसायिक दृष्टिकोण से रुक-रुककर आगे बढ़ते रहेंगे। शनिदेव का स्‍मरण करते रहें।

वृश्चिक-जोखिम भरा समय है। थोड़ा बचकर पार करें। अपने और जीवनसाथी के स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर थोड़ा अभी ध्‍यान जरूर दें। व्‍यापार और प्रेम सही चलता रहेगा। हरी वस्‍तु का दान करना, गणेश जी की स्‍मरण करना आपके लिए अच्‍छा रहेगा।

धनु-जीवनसाथी का साथ मिलेगा। रोजी-रोजगार में तरक्‍की करेंगे। कुछ नए व्‍यापार या नौकरी की स्थिति बनेगी। चली आ रही परेशानी चाहे वो व्‍यवसायिक हो या निजी, दूर होगी। स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार, प्रेम-व्‍यापार उत्‍तम है। गणेश जी की अराधना करते रहें।

मकर-राह के रोड़े हट जाएंगे। रुका हुआ काम चल पड़ेगा। विरोधी परास्‍त होंगे। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम, प्रेम और व्‍यापार उत्‍तम दिख रहा है। मां काली की अराधना करते रहें।

कुंभ-अच्‍छी सोच के मालिक हैं। कुछ अच्‍छा सा निर्णय लेने जा रहे हैं। नवप्रेम का आगमन, विद्यार्थियों के लिए अच्‍छा समय है। स्‍वास्‍थ्‍य पहले से बेहतर है। प्रेम की स्थिति अच्‍छी है। व्‍यवसायिक दृष्टिकोण से सही चल रहे हैं। हरी वस्‍तु पास रखें। भगवान गणेश की अराधना करें।

मीन-जीवन सुखमय गुजरेगा। भौतिक सुख संपदा में वृद्ध‍ि होगी। मां का और प्रेम का साथ मिलेगा। व्‍यवसायिक स्थिति अच्‍छी होगी। स्‍वास्‍थ्‍य पर ध्‍यान दें। हरी वस्‍तु का दान करें और भगवान भोलेनाथ की अराधना करें।

प्रस्‍तुति-
अजय कुमार सिंह
गोरखपुर। 

 

 

संबंधित खबरें

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here