ग्रहों की स्थिति-शुक्र, बुध और राहु तीनों ग्रह वृषभ राशि में प्रवेश कर चुके हैं। पहले से वहां राहु और बुध थे। शुक्र का भी प्रवेश हो चुका है। मेष राशि में उच्‍च के सूर्य चल रहे हैं। शुक्र भी अब राहु के साथ संक्रमित हैं। शुक्र से विपरीत लिंगी, पति-पत्‍नी के सम्‍बन्‍ध, मनोरंजन प्रभावित होगा। वित्‍त, नसें और त्‍वचा प्रभावित होगी। मंगल अभी भी शत्रुक्षेत्री मिथुन राशि में हैं। केतु वृश्चिक राशि में हैं। स्‍वग्रही शनि मकर राशि में हैं। चंद्रमा और गुरु का गजकेसरी योग बना हुआ है। ये भी एक सकारात्‍मक बात है। नकारात्‍मक और सकारात्‍मक दोनों बातें चल रही हैं।

राशिफल-
मेष-
आर्थिक मामले सुलझेंगे। रुका हुआ धन वापस मिलेगा। आय के नवीन स्रोत बनेंगे। शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। संतान पक्ष और प्रेम या प्रेमिका से कुछ अच्‍छी बातें होंगी। आपकी अच्‍छी स्थिति दिखाई पड़ रही है। पीली वस्‍तु पास रखें।

वृषभ-व्‍यवसायिक स्थिति सुधरेगी। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम रहेगा। प्रेम की स्थिति मध्‍यम रहेगी। शनिदेव की अराधना करते रहें।

मिथुन-भाग्‍य साथ देगा। धर्म-कर्म में हिस्‍सा लेंगे। यात्रा में लाभ होगा। संतान मध्‍यम, प्रेम मध्‍यम, व्‍यापार ठीक-ठाक स्‍वास्‍थ्‍य भी मध्‍यम है। पीली वस्‍तु का दान करें।

कर्क-चोट लग सकती है। किसी परेशानी में पड़ सकते हैं। गूढ़ ज्ञान की प्राप्ति होगी। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम मध्‍यम है। व्‍यापार करीब-करीब ठीक है। भगवान विष्‍णु की अराधना करते रहें।

सिंह-जीवनसाथी का साथ मिलेगा। रोजी-रोजगार में तरक्‍की करेंगे। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम ठीक, व्‍यापार भी अच्‍छा है। भगवान विष्‍णु की अराधना करते रहें।

कन्‍या-शत्रु भी मित्र बनने की कोशिश करेंगे। स्‍वास्‍थ्‍य प्रभावित है लेकिन बहुत खराब नहीं है। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम, व्‍यापार सब पहले से बेहतर दिख रहा है। शनिदेव की अराधना करते रहें। पीली वस्‍तु का दान करें।

तुला-मन प्रसन्‍न रहेगा। प्रेम की नई स्थिति बनेगी। स्‍वास्‍थ्‍य और प्रेम पहले से बेहतर है। संतान पक्ष से अच्‍छे समाचार की प्राप्ति होगी। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से भी करीब-करीब ठीक है। पीली वस्‍तु का दान करें। शनिदेव की अराधना करें।

वृश्चिक-भूमि, भवन, वाहन की खरीदारी का योग है। मां के स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार होगा। भौतिक सुख-संपदा में वृद्ध‍ि होगी। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम और व्‍यापार में सुधार होगा। भगवान विष्‍णु की अराधना करते रहें।

धनु-अपनों के साथ की वजह से व्‍यापारिक दृष्टिकोण से अच्‍छा समय रहेगा ही। प्रेम की स्थिति अच्‍छी है और स्‍वास्‍थ्‍य में भी पहले से सुधार होगा। पीली वस्‍तु पास रखें।

मकर-वाणी से रस टपकेगा। अमृत वाणी बोलेंगे। कुटुम्‍बों में वृद्धि के संकेत हैं। स्‍वास्‍थ्‍य पहले से बेहतर है। प्रेम और व्‍यापार की अच्‍छी स्थिति है। पीली वस्‍तु का दान करें।

कुंभ-सकारात्‍मक उर्जा का संचार होगा। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम और व्‍यापार में सुधार होगा। पीली वस्‍तु का दान करें।

मीन-यद्यपि की शुभ कार्यों में खर्च होगा लेकिन खर्च की अधिकता की वजह से कर्ज की स्थिति आ सकती है। स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार होगा। प्रेम और व्‍यापार अच्‍छा रहेगा। पीली वस्‍तु पास रखें।

प्रस्‍तुति-
अजय कुमार सिंह
गोरखपुर। 

 

 

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here