[ad_1]

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार (Yogi Government) द्वारा फिल्म सिटी (Film City) के ऐलान के बाद प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) के कलाकारों (Artists) में हलचल देखी जा रही है. दरअसल यूपी के कलाकारों को मानना ये है कि फिल्म सिटी उनके प्रदेश में बन रही है तो उन्हें भी महत्व मिले. प्रदेश सरकार की फिल्म नीति ऐसी हो, जिसमें यूपी के कलाकारों के हितों का ध्यान रखा जाए. इसी को लेकर रविवार को लखनऊ के कलाकारों व कास्टिंग डायरेक्टर्स ने निसर्ग संस्था के सौजन्य से संगीत नाटक अकादमी में बैठक की. इस बैठक में सभी ने संयुक्त रूप से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धन्यवाद दिया कि उनके प्रयासों से उत्तर प्रदेश में लगातार फिल्मों की शूटिंग हो रही है. जिस वजह से स्थानीय कलाकारों को भी रोज़गार मिल रहा है.

20 बिंदुओं पर बनी बात, सरकार से करेंगे मुलाकात

साथ ही बैठक में कलाकारों ने ये भी कहा कि फ़िल्म सिटी व फ़िल्म नीति में मुम्बई के फ़िल्म निर्देशकों व निर्माताओं के सुझावों के साथ ही उत्तर प्रदेश के स्थानीय कलाकारों के सुझावों पर भी ध्यान दिया जाए ताकि भविष्य में प्रदेश से कलाकारों का पलायन रुक सके. बैठक में कहा गया कि ये तभी संभव होगा जब यहां के कलाकारों को भी मुम्बई के कलाकारों जैसी सुविधायें, फीस व अधिकार मिलें. करीब 3 घंटे चली इस मैराथन बैठक में मुख्य रूप से 20 बिंदु निकलकर आए. बैठक के बाद तय किया गया कि इस चर्चा से मिले सुझावों को आधार बनाकर सभी कलाकार व कास्टिंग डायरेक्टर्स फ़िल्म बंधु विभाग व फ़िल्म सिटी से संबंधित अधिकारियों से मुलाकात करेंगे.

 बैठक में शामिल हुए ये जाने-माने कलाकारआज की बैठक में लखनऊ के जाने माने कलाकार डॉ अनिल रस्तोगी, ललित पोखरिया, नवल शुक्ला, नरेंद्र पंजवानी, मंजू गुप्ता, राकेश पांडेय, रेहान किदवई, संदीप यादव, वरुण टम्टा, राखी किशोर, प्रीति चौहान, पुनीता अवस्थी, तूलिका बनर्जी, अर्पित मिश्रा, अम्बुज रस्तोगी, अजय सिंह, महेश देवा,  अविनाश शुक्ला, अमलेश जायसवाल, बृज भूषण तथा कास्टिंग डायरेक्टर विवेक यादव, मो. सैफ, पंकज चौहान, समायर सिंह, विशाल आनंद, अविनाश गुप्ता, मानसी पांडेय समेत लखनऊ के कई युवा कलाकार उपस्थित रहे.

बैठक के आयोजन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले संदीप यादव ने बताया कि कई कलाकार ऐसे थे, जो बैठक में नहीं आ सके, लेकिन उन्होंने भी इसमें ऑनलाइन अपनी उपस्थिति दर्ज कराई और सुझाव दिए. सभी के सुझावों को शामिल करके जल्द ही अगली मीटिंग फ़िल्म बंधु विभाग के साथ करने का प्रस्ताव भी रखा गया.

lko film

फिल्म सिटी को लेकर लखनऊ के कलाकारों व कास्टिंग डायरेक्टर्स ने निसर्ग संस्था के सौजन्य से संगीत नाटक अकादमी में बैठक की.

संदीप यादव कर रहे हैं प्रयास

बता दें पिछले दिनों बाटला हाउस फिल्म और आश्रम जैसी वेब सीरिज में अभिनय का लोहा मनवा चुके लखनऊ के जाने-माने कलाकार संदीप यादव ने फेसबुक पर पोस्ट लिखी थी, इसमें उन्होंने लिखा, “यूपी में फ़िल्म सिटी को लेकर तमाम चर्चाएं हैं कि ये सुविधाएं दी जाएंगी वो सुविधाएं दी जाएंगी लेकिन किसे दी जाएंगी? क्या उन्हें जिनके पास करोड़ों रुपये और तमाम सुविधाएं पहले से हैं. प्रदेश के कलाकारों, टेक्नीशियनस, कास्टिंग डायरेक्टर्स, लाइन्स प्रोड्यूसर्स से फ़िल्म सिटी निर्माण योजना का कोई ज़िम्मेदार कभी बात क्यों नहीं करता? उनके साथ कोई मीटिंग क्यों नहीं रखी जाती कि उनको लखनऊ/यूपी में शूटिंग करते समय किन-किन दिक्कतों का सामना करना पड़ता है?”

लेकिन संदीप यादव सिर्फ फेसबुक पोस्ट में दर्द साझा कर नहीं रुके, उन्होंने लखनऊ के कलाकारों को साथ जोड़ने और इंडस्ट्री से जुड़े तमाम लोगों को साथ लेकर योगी सरकार से अपनी बात पहुंचाने की कोशिश शुरू की है. रविवार को हुई बैठक उसी प्रयास का हिस्सा है.



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here