[ad_1]

पंचायत चुनाव में बीजेपी ने किया जीत का दावा.  (सांकेतिक फोटो)

पंचायत चुनाव में बीजेपी ने किया जीत का दावा. (सांकेतिक फोटो)

UP Panchayat Chunav 2021: बीजेपी (BJP) ने पंचायत चुनाव की तैयारियां शुरु कर दी है. ज्यादातर जिलों में सत्ताधारी दल भाजपा और सपा (SP) के बीच कड़े मुकाबले की संभावना बनी हुई है.

लखनऊ. त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव (UP Jila Panchayat Chunav) में पिछड़ी बीजेपी अब जिला पंचायत अध्यक्ष और ब्लॉक प्रमुख के निर्वाचन में मजबूती से आगे आने की रणनीति पर काम कर रही है. जिला पंचायत अध्यक्ष और ब्लॉक प्रमुख के चुनाव से पहले सदस्य के रूप में निर्वाचित विरोधियों के साथ अपने बागियों की फिर से वापसी कराने की रणनीति भी तैयार है. प्रदेश में विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election) से पहले जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव काफी अहम है. ज्यादातर जिलों में सत्ताधारी दल भाजपा और सपा के बीच कड़े मुकाबले की संभावना बनी हुई है. कई जिलों में बसपा भी अध्यक्ष पद की मुख्य दावेदार है.

ज्यादातर जिलों में जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनाव में निर्दलीय जिला पंचायत सदस्यों की अहम भूमिका होगी, जिनकी जोड़तोड़ तेज हो गई है. अलग-अलग जिलों में सुभासपा, आप, कांग्रेस, अपना दल आदि समर्थित जीते सदस्य भी समीकरण को प्रभावित करेंगे. लेकिन बीजेपी पूरी रणनीति के साथ मैदान में उतर रही है.

बीजेपी का दावा

बीजेपी के जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव प्रभारी और महामंत्री जेपीएस राठौर कहते हैं कि पार्टी का लक्ष्य है अधिक से अधिक पदों पर चुनाव जीतना. इसके लिए बीजेपी के कार्यकर्ता तैयार है. चुनाव पारदर्शिता के साथ लड़ी जाएगी और इस सप्ताह हम अपना प्रत्याशी भी घोषित कर देंगे. बीजेपी के सभी प्रत्याशी जिताउ होंगें. गौरतलब है जिला पंचायत अध्यक्ष और ब्लॉक प्रमुख सीटें जीताने के लिए सरकार और संगठन की संयुक्त तैयारी जमीन पर दिख रही है. प्रदेश के मंत्रियों को उनके जिले की जिम्मेदारी दी गई है. मंत्री अपने यहां के निर्दलीय और विपक्ष के पंचायत सदस्यों को बीजेपी के साथ जोड़ने की कोशिश करेंगे. ऐसे में चुनाव तक ज्यादातर मंत्रियों, विधायकों और सांसदों को अपने जिले में रहना है और वहां पंचायत अध्यक्ष चुनाव के लिए समीकरण मजबूत बनाना है.







[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here