Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गोरखपुर2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
पुलिस ने आरोपियों को जेल भेज दिया है। इसके साथ अन्य लोगों की तलाश जारी है। - Dainik Bhaskar

पुलिस ने आरोपियों को जेल भेज दिया है। इसके साथ अन्य लोगों की तलाश जारी है।

गोरखपुर में पूर्वांचल के सबसे बड़े दवा बाजार भालोटिया मार्केट में ब्लैक फंगस के इलाज में कारगर एंटी फंगल इंजेक्शन की कालाबाजारी गिरोह का भंडाफोड़ हुआ है। सिटी मजिस्ट्रेट अभिनव रंजन श्रीवास्तव ने पुलिस टीम के साथ मंगलवार की दोपहर भालोटिया मार्केट स्थित अंश ट्रेडिंग पर छापेमारी की। इस दौरान यहां 37 सौ रुपए का एंटी फंगल इंजेक्शन 19 हजार रुपए में बेचा जा रहा था। सिटी मजिस्ट्रेट ने पहले एक ग्राहक को भेजकर यह पूरी कार्रवाई की है। टीम ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए लोगों के पास से इंजेक्शन भी बरामद हुए हैं।

जिले में ब्लैक फंगस के 24 रोगी
दरअसल, जिले में कोरोना संक्रमण से मुक्ति पा चुके 24 से अधिक मरीजों में ब्लैक फंगस के लक्षण मिल चुके हैं। वहीं, शहर के एक मरीज की मौत लखनऊ के एक निजी अस्पताल में हो चुकी हैं। ब्लैक फंगस के केस बढ़ते ही शहर के दवा बाजार से एंटी फंगल इंजेक्शन पूरी तरह गायब हो गए। इस बीच लगातार इसके कालाबाजारी की भी शिकायतें मिलनी लगीं। मंगलवार को सिटी मजिस्ट्रेट को सूचना मिली कि कैंट इलाके के भालोटिया मार्केट स्थित अंश ट्रेडिंग कंपनी पर इंजेक्शन ब्लैक हो रहा है।

सिटी मजिस्ट्रेट ने कैंट पुलिस के पहले एक व्यक्ति को ग्राहक बनाकर इंजेक्शन खरीदने के लिए दुकान पर भेजा। इस दौरान दवा व्यापारी द्वारा 3686.49 रुपए के इंजेक्शन का व्यापारी ने 19 हजार हजार रुपए वसूल लिया। इसी बीच टीम ने दुकान पर छापा मारा और सबकुछ सामने आ गया। पुलिस ने अंश ट्रेडिंग के अमित जायसवाल, नेक्सा वैलनेस कंपनी के एरिया मैनेजर राहुल पांडेय व एक अन्य कर्मचारी को गिरफ्तार कर लिया।

कंपनी के मैनेजर के साथ मिलकर हो रही थी कालाबाजारी
पुलिस के मुताबिक अंश ट्रेडिंग कंपनी पर एंटी फंगल इंजेक्शन की कालाबाजारी कंपनी के एरिया मैनेजर के साथ मिलकर हो रही थी। इसमें कंपनी के कुछ एमआर और एरिया मैनेजर भी शामिल हैं। जोकि फिलहाल पकड़े गए आरोपियों से पुलिस कैंट थाने में पूछताछ कर रही है। इंस्पेक्टर कैंट अनिल उपाध्याय ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। इनसे मिलने वाली जानकारी के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल अभी केस दर्ज नहीं हुआ है। जल्द ही पकड़े गए तीनों आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here