महोबा21 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
तबीयत बिगड़ने के बाद एसडीएम ने  अर्दली को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। - Dainik Bhaskar

तबीयत बिगड़ने के बाद एसडीएम ने अर्दली को जिला अस्पताल में भर्ती कराया।

उत्तर प्रदेश के महोबा में एसडीएम (प्रशासनिक) के अर्दली ने जहर खाकर कलेक्ट्रेट में आत्महत्या का प्रयास किया। अर्दली 3 महीने से वेतन न मिलने से दुखी थी। दरअसल उसपर लाखों का कर्ज है। वेतन न मिलने से कर्ज की ईएमआईअदा नहीं कर पाने से परेशान था। घटना से कलेक्ट्रेट परिसर में हड़कंप मच गया। एसडीएम ने स्वयं आनन फानन में अर्दली को जिला अस्पताल के एमरजेंसी में भर्ती कराया। जहां उसका इलाज चल रहा है।

अर्दली पर 15 लाख रुपए का कर्ज

एसडी सौरभ पांडे के अर्दली भूषण कुमार पर 15 लाख रुपए का कर्ज है। कर्ज अदा करने के लिए वो हर महीने ईएमआई जमा करता है। 3 महीने से वेतन न मिलने पर वो कर्ज की ईएमआई का भुगतान नहीं कर सका। जिससे वो काफी परेशान था। आर्थिक तंगी से जूझते हुए उसने कलेक्ट्रेट में ही जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या की कोशिश की।

तबीयत में हो रहा सुधार

जहरीला पदार्थ खाने के बाद अर्दली भूषण कुमार की तबीयत अचानक बिगड़ने लगी। जैसे ही कलेक्ट्रेट में अन्य लोगों की उसपर निगाह पड़ी, उन्होंने एसडीएम को सूचना दी। अर्दली को देख एसडीएम भी घबरा गए। उन्होंने तुरंत भूषण कुमार को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। एमरजेंसी वार्ड में भर्ती भूषण कुमार की तबीयत में अब सुधार हो रहा है। डॉक्टरों ने बताया कि, उसकी स्थिति सामान्य बनी हुई है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here