कब खुलेंगे स्कूल
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

देश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर की रफ्तार बेहद तेज है, इससे देश में स्थिति भयावह होती जा रही है। पिछले 24 घंटों में 1.15 लाख से अधिक नए मरीज मिले हैं। ऐसे में सावधानी बरतते हुए दिल्ली, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में विद्यालयों, विश्वविद्यालयों और सभी शिक्षण संस्थानों को बंद रखने के आदेश दिए गए हैं। कुछ राज्यों ने यह निर्देश अनिश्चित काल तक के लिए दिए हैं, वहीं अन्य राज्यों ने कुछ समय के लिए कक्षाओं को निलंबित किया है। आज हम आपको 12 राज्यों में जारी दिशा-निर्देशों के बारे में बताने जा रहे हैं। पढ़िए…   

दिल्ली : शैक्षणिक सत्र 2021-22 में किसी भी विद्यार्थी को विद्यालय नहीं बुलाया जाएगा। यह आदेश पिछले सप्ताह दिल्ली सरकार द्वारा जारी किया गया था। जारी आदेश के मुताबिक नौवीं से लेकर बारहवीं कक्षा तक के विद्यार्थी अपने अभिभावकों की अनुमति के साथ परीक्षाओं और प्रैक्टिकल से संबंधित कार्यों के लिए विद्यालय आ सकते हैं। 

उत्तर प्रदेश : राज्य सरकार ने छात्रों के लिए पहली कक्षा से लेकर आठवीं कक्षा तक के विद्यालयों को 11 अप्रैल तक बंद रखने के निर्देश दिए हैं। बता दें पहले यह निर्देश 31 मार्च तक के लिए दिए गए थे जिसे बढ़ाकर 11 अप्रैल तक कर दिया गया है।

छत्तीसगढ़ : 22 मार्च से बंद हुए विद्यालयों और महाविद्यालयों को फिर से खोलने के संबंध में राज्य सरकार द्वारा अभी तक कोई भी निर्देश नहीं दिए गए हैं। 
 

मध्य प्रदेश : कक्षा आठवीं तक के छात्रों के लिए सभी स्कूलों को बंद रखने के निर्देश दिए गए हैं। सरकार द्वारा यह फैसला 15 अप्रैल तक के लिए लिया गया है। 

जम्मू और कश्मीर : 5 अप्रैल से दो सप्ताह तक पहली कक्षा से लेकर नौवीं कक्षा तक सभी स्कूल बंद रहेंगे। केंद्र शासित प्रदेश जम्मू और कश्मीर ने यह आदेश जारी किया है। हालांकि, इस दौरान कक्षा दसवीं और बारहवीं की बोर्ड परीक्षाएं निर्धारित तिथि पर आयोजित होंगी।   

तमिलनाडु : इस राज्य में नौवीं, दसवीं और ग्यारहवीं कक्षा के छात्रों के लिए 9 मार्च से ही स्कूलों को बंद करने के निर्देश दे दिए गए थे।

महाराष्ट्र : कक्षा पहली से लेकर आठवीं, नौवीं और ग्यारहवीं के छात्रों को स्कूल जाने की अनुमति नहीं दी गई है। राज्य में केवल कक्षा दसवीं और बारहवीं के छात्रों और एमपीएससी परीक्षा की तैयारी करने वाले अभ्यर्थियों को ही शैक्षणिक गतिविधियों में शामिल होने की इजाजत दी गई है।
 

पुडुचेरी : इस केंद्र शासित प्रदेश में उच्च कक्षाएं ऑफलाइन मोड में आयोजित की जा रही हैं। वहीं पहली से आठवीं तक के छात्रों के लिए सभी विद्यालयों को 22 मार्च से बंद कर दिया गया है। 

पंजाब : इस राज्य में 10 अप्रैल तक सभी शैक्षणिक संस्थान बंद रहेंगे। बता दें राज्य सरकार द्वारा यह निर्देश 31 मार्च तक के लिए दिए गए थे। किंतु वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए इस आदेश को 10 अप्रैल तक के लिए बढ़ा दिया गया है।

गुजरात : यहां पहली कक्षा से लेकर नौवीं कक्षा के छात्रों के लिए अनिश्चित काल तक स्कूल बंद करने के आदेश हैं।

राजस्थान : राज्य में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमंण के मामलों को देखते हुए सरकार ने कक्षा नौवीं तक के छात्रों के लिए 5 अप्रैल से 19 अप्रैल तक स्कूलों को बंद रखने के आदेश दिए हैं। 
 

बिहार : 5 अप्रैल से 11 अप्रैल तक सभी विद्यालयों और विश्वविद्यालयों को खोलने से मना कर दिया गया है। इसके साथ सरकार द्वारा सभी तरह के सार्वजनिक आयोजनों पर भी रोक लगा दी गई है। 

विस्तार

देश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर की रफ्तार बेहद तेज है, इससे देश में स्थिति भयावह होती जा रही है। पिछले 24 घंटों में 1.15 लाख से अधिक नए मरीज मिले हैं। ऐसे में सावधानी बरतते हुए दिल्ली, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश समेत कई राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में विद्यालयों, विश्वविद्यालयों और सभी शिक्षण संस्थानों को बंद रखने के आदेश दिए गए हैं। कुछ राज्यों ने यह निर्देश अनिश्चित काल तक के लिए दिए हैं, वहीं अन्य राज्यों ने कुछ समय के लिए कक्षाओं को निलंबित किया है। आज हम आपको 12 राज्यों में जारी दिशा-निर्देशों के बारे में बताने जा रहे हैं। पढ़िए…   



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here