विंबलडन (लंदन). विंबलडन के सेंटर और नंबर एक कोर्ट पर एकल क्वार्टर फाइनल से क्षमता के शत प्रतिशत दर्शकों को आने की स्वीकृति दी जा सकती है. यह व्यवस्था टूर्नामेंट के अंत तक बरकरार रहेगी. विंबलडन के आयोजक ऑल इंग्लैंड क्लब ने रविवार को कहा कि पिछले साल कोरोना वायरस महामारी की शुरुआत के बाद से यह ब्रिटेन में पहली बार होगा जब किसी खेल प्रतियोगिता के दौरान आउटडोर स्टेडियम में क्षमता के शत प्रतिशत दर्शकों को आने की स्वीकृति होगी.

कोविड-19 महामारी के बढ़ने के कारण 2020 में विंबलडन को रद्द कर दिया गया था. ऐसा 75 साल के इतिहास में पहली बार हुआ जब सबसे पुराने ग्रैंडस्लैम टूर्नामेंट का आयोजन नहीं किया गया. क्लब ने कहा कि चैंपियनशिप के पहले हफ्ते के सफल आयोजन और सरकार से स्वीकृति मिलने के बाद दो मुख्य कोर्ट पर दर्शकों की सीमा में इजाफा किया जाएगा जो अभी 50 प्रतिशत है.

इसे भी पढ़ें, सानिया मिर्जा महिला डबल्स के दूसरे दौर से बाहर, रूसी जोड़ी से मिली करारी शिकस्‍त

सोमवार को चौथे दौर के मुकाबलों के बाद मंगलवार से महिलाओं जबकि बुधवार से पुरुषों के वर्ग के क्वार्टर फाइनल शुरू होंगे. महिलाओं का फाइनल शनिवार जबकि पुरुषों का 11 जुलाई को होगा. टूर्नामेंट की शुरुआत से पहले क्लब ने कहा था कि वे सिर्फ दो एकल फाइनल के लिए ही शत प्रतिशत दर्शकों को स्टेडियम में आने की स्वीकृति दे पाएंगे. सेंटर कोर्ट की क्षमता 14,979 लोगों की है जबकि नंबर एक कोर्ट पर 12,345 दर्शक एक साथ मुकाबला देख सकते हैं.

दर्शकों को हालांकि प्रत्येक दिन टूर्नामेंट देखने के लिए पहुंचने पर अपनी कोविड-19 स्थिति की जानकारी देनी होगी. उनका कोविड परीक्षण पिछले 48 घंटे में या तो नेगेटिव होना चाहिए या फिर उनका पूर्ण टीकाकरण हुआ हो.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here