[ad_1]

  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Yamuna Expressway Will Have A Maximum Speed Of 80 Km From December 15, 250 To 300 Accidents Occur Every Year In The Cold

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लखनऊ15 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

यमुना एक्सपेस वे पर दुर्घटनाओं को रोकने के लिए यूपीडा ने चार पाहिया वाहनों के लिए अधिकतम स्पीड की सीमा निर्धारित कर दी है।

  • यमुना प्राधिकरण ने तय की रफ्तार की सीमा, उलंघन पर कटेगा चलान
  • यमुना एक्सप्रेस वे पर हादसे रोकने के लिए कई कदम उठाए जा रहे हैं

बढ़ते ठंढ के साथ कोहरे का कहर भी बढ़ जाता है,ऐसे में यमुना एक्सप्रेसवे पर दुर्घटनाएं भी बढ़ जाती हैं। बढ़ते हादसे को देखते हुए यमुना प्राधिकरण ने 15 दिसम्बर से 15 फरवरी तक एक्सप्रेसवे की रफ्तार घट जाएगी। कारों की रफ्तार 80 और भारी वाहनों की 60 किलोमीटर प्रति घंटे की होगी। दरअसल, अभी सोमवार को ही यमुना एक्सप्रेसवे पर एक साथ 50 से ज्यादा वाहन घने कोहरे के कारण टकराए थे। जिसमें 2 की मौत जबकि 10 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे। प्राधिकरण से मिली जानकारी के मुताबिक हर साल ठंड में छोटे बड़े लगभग 250 से 300 एक्सीडेंट होते हैं।

वाहन की स्पीड कम कर रोकेंगे एक्सीडेंट
यमुना प्राधिकरण के सीईओ डॉ. अरुणवीर सिंह ने बताया कि सर्दियों में कोहरे के चलते यमुना एक्सप्रेसवे पर हादसे रोकने के लिए कई कदम उठाए जा रहे हैं। उनमें पहला वाहनों की गति सीमा को कम करना है। वर्तमान समय में गति सीमा हल्के वाहनों के लिए 100 और भारी वाहनों के लिए 80 किलोमीटर प्रति घंटे है, जिसे घटाकर क्रमश: 80 व 60 करने का फैसला लिया गया है। 15 दिसंबर से यह लागू हो जाएगा। पुलिस व जेपी कंपनी को भी इसकी सूचना भेज दी गई है।

गति सीमा का उल्लंघन हुआ तो कटेगा चालान
अरुणवीर सिंह कहते है कि गति सीमा का उल्लंघन करने पर वाहनों के चालान काटे जाएंगे। उन्होंने बताया कि दोनों ही प्रवेश प्वाइंट (आगरा व परी चौक) पर पंफलेट बांटकर गति सीमा कम रखने की जानकारी दी जाएगी। टोल प्लाजा पर वाहन चालकों की सुस्ती दूर करने के लिए टोल प्रबंधन की तरफ से चाय का इंतजाम किया जाएगा।

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here